भारत में राजनीतिक हथियार बनता जा रहा है हमारा संविधान

प्रमोद आचार्य हमारा संविधान इन दिनों राजनीतिक दलों के लिए एक हथियार बनता जा रहा है। बीते लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने इस हथियार को सर्वाधिक धार दी। नतीजा यह हुआ कि कांग्रेस की लोकसभा में सीटें बढ़ गई और उसकी विरोधी भाजपा को 63 सीटों का नुकसान हुआ। अब भाजपा को भी यह समझ […]

Continue Reading

राजस्थानी भाषा एवं साहित्य हमारी असली पहचान है- डॉ. मंजू बाघमार

प्रदेश का सबसे बड़ा मायड़भाषा महोत्सव संपन्न नागौर // राजस्थान प्रदेश में होने वाले भाषा एवं साहित्य से जुड़े आयोजनों में सबसे बड़े आकार का साहित्य महोत्सव 09 जून को नागौर जिले के डेह कस्बे में अवस्थित कुंजल माता मंदिर में आयोजित हुआ। अखिल भारतीय राजस्थानी भाषा मान्यता संघर्ष समिति तथा नेम प्रकाशन, डेह के […]

Continue Reading

पत्रकारों में दूरदर्शिता होना जरूरी तभी खोजपूर्ण रिपोर्टिंग को मिलेगा बल

प्रमोद आचार्य आज हिंदी पत्रकारिता दिवस है। आज ही के दिन यानी 30 मई 1826 को कोलकाता से उदंत मार्तंड नाम से हिंदी का पहला समाचार पत्र प्रकाशित हुआ था। इसी कारण हम हिंदी पत्रकारिता दिवस मना रहे हैं। मैं साबसे पहले अपनी बात इस दिवस के नामकरण पर ही करूँगा, क्योकि हिंदी में प्रकाशित […]

Continue Reading

बधाई हो !!!! डीडवाना के बेटा और नागौर के पोता हुआ है…….

नए जिलों की घोषणा के साथ ही सोशल मीडिया पर खूब मीम बने, लोगों ने चुटीले अंदाज में नए जिलों पर कसे फिकरे, चुटीले बयान खूब ट्रेंड हुए प्रमोद आचार्य आज की सबसे बडी खबर यही है कि प्रदेश के मुखिया जादूगर जी ने एक बार फिर अपना पिटारा खोला और तीन नए जिले हमारे […]

Continue Reading

नूतन वर्ष अभिनंदन, स्वागत है 2022

नागौर // नूतन वर्ष अभिनंदन। भारत की प्राचीन परपंरा रही है। इसका प्रमाण भी है। यदि हम बरसों से नव वर्ष मना रहे हैं तो इसके पीछे बड़ा कारण यही है कि हम भारतीय हर धर्म की संस्कृति को आत्मसात करने की शक्ति अपने पास रखते हैं। आजादी से पहले ब्रिटिश सरकार के गोरे अधिकारी […]

Continue Reading