सरकार के गठन के साथ ही नागौर में एक्टिव हुई ज्योति मिर्धा, आवास पर की जनसुनवाई

राजनीति

नागौर // जयपुर में शुक्रवार को सरकार के गठन के साथ ही पूर्व सांसद ज्योति मिर्धा नागौर में एक्टिव हो गई है। शनिवार को वे नागौर आई और यहां आते ही उन्होंने अपने आवास पर दिनभर आमजन से मुलाकात की और उनकी समस्याएं सुनी। इस दौरान प्रशासनिक अधिकारियों को भी दिशा निर्देश दिए। ज्योति मिर्धा से मिलने के लिए दिनभर उनके आवास पर ग्रामीण व शहरी लोेगों का तांता लगा रहा। उन्होंने शनिवार को नागौर में अमरसिंह कॉलोनी स्थित अपने आवास पर जनसुनवाई की। इस दौरान उन्होंने घर पहुंचे सभी आगंतुको से मुलाकात कर चर्चा की। लोगों ने उन्हें राजस्थान में भाजपा सरकार के गठन की बधाई देते हुए अपनी समस्याओं से अवगत करवाया। इस पर पूर्व सांसद मिर्धा ने तुरंत एक्शन लेते हुए अधिकारियों से वार्ता कर उनका समाधान करवाया। इस बीच मीडिया से चर्चा करते हुए वे बोली नागौर का आदेश हमेशा सिर माथे रहेगा। उन्होंने कहा कि नागौर विधानसभा क्षेत्र में बिजली- पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य और सड़क जैसी मूलभूत सुविधाओं पर फोकस किया जाएगा, नागौर में पुराने अस्पताल भवन को फिर से चालू करवाकर आमजन को राहत प्रदान की जाएगी। वहीं बीकानेर रेल फाटक पर ओवरब्रिज के निर्माण कार्य में गति लाई जाएगी। केंद्र व राज्य सरकार द्वारा युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए चलाई जा रही योजनाओं को धरातल पर उतारा जाएगा। जो गांव-ढाणियां सड़कों से नहीं जुड़ी हैं, उन्हें सड़कों से जोड़ा जाएगा। मिर्धा ने कहा कि उनका पहला प्रयास रहेगा कि नागौर की जनता के काम प्राथमिकता से करवाए जाएं। मिर्धा ने यह भी साफ कर दिया कि वे लाठी की तरह मजबूत हैं। नागौर की जनता के लिए हमेशा लड़ती रही हैं और आगे भी उनकी सेवा के लिए तैयार रहेंगी। उन्होंने कहा कि चुनाव में रिजल्ट चाहे कुछ भी आए मगर राजनीति में संभावनाएं कभी खत्म नहीं होती, काम करना जरूरी होता हैं।